लैपटॉप और कंप्यूटर में क्या अंतर है

लैपटॉप और कंप्यूटर में क्या अंतर है: हमारे दैनिक जीवन में टेक्नोलॉजी का प्रयोग बहुत अधिक बढ़ गया है। क्योंकि वर्तमान में शिक्षा व अन्य सभी क्षेत्रों में तकनीक का प्रयोग बहुत अधिक बढ़ गया है। इसके साथ हम मनोरंजन के लिए भी तकनीकी का प्रयोग करते रहते हैं।

जिसमें पर्सनल कंप्यूटर का उपयोग बहुत अधिक हो गया है हम पर्सनल कंप्यूटर के रूप में डेस्कटॉप कंप्यूटर और लैपटॉप का उपयोग करते हैं। कंप्यूटर हमारे जीवन में काफी लंबे समय से चल रहा है लेकिन उस समय लैपटॉप का इतना अधिक प्रयोग नहीं होता था तथा इसके बारे में लोगों को ज्यादा जानकारी भी नहीं थी। 

परंतु आज तकनीकी का विस्तार होने के साथ और हमारी कार्य शैली में बदलाव होने के कारण इन दोनों का भी उपयोग बहुत अधिक हो गया है। वर्तमान में ऐसे बहुत से कार्य है जिसके लिए कंप्यूटर या लैपटॉप की आवश्यकता होती है क्योंकि इनके माध्यम से हमारा काम जल्दी सम्पन हो जाते है। अतः कार्य में तेजी लाने के लिए हमें कंप्यूटर और लैपटॉप रखना जरुरी हो गया है। लेकिन हमें पता नहीं होता है कि हमें लैपटॉप या कंप्यूटर में से क्या खरीदना चाहिए।

अगर आप नया कंप्यूटर या लैपटॉप खरीदना चाहते हैं तो लैपटॉप और कंप्यूटर में अंतर का पता होना चाहिए। इससे पहले हमें यह पता होना चाहिए कि डेस्कटॉप कंप्यूटर क्या है? और लैपटॉप क्या है? अतः इस लेख के माध्यम से हम लैपटॉप और कंप्यूटर में क्या अंतर है के बारे में विस्तार से जानेंगे।

डेस्कटॉप कंप्यूटर क्या होता है?

कंप्यूटर अपनी स्टोरेज क्षमता तथा कार्य करने की क्षमता के आधार पर अलग-अलग प्रकार के पाए जाते हैं। डेस्कटॉप कंप्यूटर का उपयोग कार्यालय, व्यावसायिक प्रतिष्ठानों, शिक्षा संस्थानों तथा गेमिंग जेसी बड़ी-बड़ी कंपनियों में किया जाता है। डेस्कटॉप कंप्यूटर अनेक पार्ट से मिलकर बना होता है। इसे उपयोग करने के लिए लगातार बिजली की आवश्यकता होती है। 

डेस्कटॉप कंप्यूटर मॉनिटर, सीपीयू, माउस कीबोर्ड का एक मिश्रित रूप होता है। इसमें सीपीयू डेस्कटॉप कंप्यूटर का मुख्य भाग होता है इसी के आधार पर डेस्कटॉप कंप्यूटर कार्य करता है। इसी में डेस्कटॉप कंप्यूटर का ऑपरेटिंग सिस्टम होता है जो की कंप्यूटर को काम करने का निर्देश देता है। तथा इसी में इसकी स्टोरेज होती है जो आपके डाटा को सुरक्षित रखता है। इसी के साथ इसमें माउस और कीबोर्ड होते है जिनकी सहायता से आप कंप्यूटर को निर्देश दे सकते हो। 

लैपटॉप क्या है?

लैपटॉप आधुनिक समय का पर्सनल कंप्यूटर है वर्तमान में इसका उपयोग कार्य क्षेत्र में अधिक बढ़ गया है और लैपटॉप का उपयोग व्यक्तिगत कंप्यूटर के रूप में किया जाने लगा है क्योंकि यह कंप्यूटर का एक छोटा प्रारूप है और यह कंप्यूटर का ही एक नवीनतम रूप है। इसमें माउस और कीबोर्ड अलग-अलग नहीं होता है इसमें सीपीयू भी अलग से नहीं पाया जाता है।

यह माउस, सीपीयू, एलईडी स्क्रीन और कीबोर्ड का एक मिश्रित रूप होता है। इसमें आपको लगातार बिजली देने की भी आवश्यकता नहीं होती इसे आप एक बार चार्ज करके कुछ देर तक उपयोग कर सकते है। 

लैपटॉप और कंप्यूटर में क्या अंतर है

1. पोर्टेबिलिटी

लैपटॉप एक पोर्टेबल डिवाइस है लैपटॉप को आप आसानी से अपने साथ कही भी ले जा सकते है लेकिन डेस्कटॉप कंप्यूटर को आप इधर-उधर नहीं ले जा सकते है इस पर आप एक निश्चित जगह पर रखकर ही उपयोग कर सकते है और यह लैपटॉप से बड़ा भी होता है। 

2. बिजली का उपयोग 

लैपटॉप को ज्यादा विद्युत की आवश्यकता नहीं होती है यह बैटरी से भी चलाया जा सकता है इसे एक बार चार्ज कर करने के पश्चात कुछ समय तक बिना विद्युत सप्लाई के चलाया जा सकता है लेकिन कंप्यूटर को आप बिना बिजली के नही चला सकते है क्योंकि इसमें किसी भी प्रकार की बैटरी नहीं होती है इसलिए इस पर काम करते लगातार बिजली की आवश्यकता होती हैं। 

3. हार्डवेयर और परफॉर्मेंस

लैपटॉप की हार्डवेयर और परफॉर्मेंस कम गुणवत्ता की होती है इस पर ज्यादा हेवी काम नहीं कर सकते है लेकिन यह अलग-अलग क्षमताओं के आधार पर पाए जाते हैं। जबकि डेस्कटॉप कंप्यूटर की प्रक्रिया और हार्डवेयर तकनीक लैपटॉप की अपेक्षा उच्च गुणवत्ता की होती है यह कार्य को तेज गति से करने में सक्षम होता है। 

4. कीबोर्ड और माउस

लैपटॉप में कीबोर्ड और माउस अलग से नहीं होता है यह लैपटॉप के साथ ही होता है और आवश्यकता के अनुसार कार्य अधिक गति में करने के लिए माउस और कीबोर्ड को लैपटॉप के साथ जोड़ा जा सकता है लैपटॉप में हमे टच पैड की सुविधा मिलती है। जबकि डेस्कटॉप कंप्यूटर में कीबोर्ड और माउस अलग से होते हैं। इसमें आपको किसी भी प्रकार के माउस और कीबोर्ड नही मिलते है। 

5. मॉनिटर और सीपीयू

लैपटॉप में मॉनिटर और सीपीयू अलग से नहीं होते हैं यह लैपटॉप में ही समाहित होते हैं इसकी मॉनिटर और सीपीयू डेस्कटॉप कंप्यूटर की अपेक्षा में कम गुणवत्ता की होती है। जबकि डेस्कटॉप कंप्यूटर में मॉनिटर और सीपीयू अलग से आते हैं इसका हार्डवेयर और सीपीयू की गुणवत्ता लैपटॉप की अपेक्षा में अधिक होती है। यह लैपटॉप की तुलना में अधिक तेजी से कार्य कर सकता है। 

6. सुरक्षा

डेस्कटॉप कंप्यूटर, लैपटॉप की अपेक्षा अधिक सुरक्षित होता है यह एक स्थान पर स्थाई रूप से लगाया जाता है जिसको इधर-उधर ले जाने में इसके  टूटने का डर नहीं होता है और इसकी सुरक्षा सेटिंग भी अच्छी होती है। लैपटॉप को इधर-उधर ले जाते समय टूटने का भय बना रहता है और इसकी चोरी आदि होने की आशंका भी ज्यादा होती है। इसलिए लैपटॉप कंप्यूटर की अपेक्षा कम सुरक्षित होती है।

सबसे पहले कंप्यूटर का आविष्कार किसने किया? 

सबसे पहला कम्प्यूटर चालर्स बैबेज के द्वारा बनाया गया था। कंप्यूटर का एक बहुत ही बड़ा इतिहास है क्योंकि 1642 ईस्वी में पास्कल ने यांत्रिक गणनाओं हेतु एक बिजली उपकरण का निर्माण किया जिसे केलुक्लेटर कहा गया। उसके बाद 19वी शताब्दी में चॉलर्स बैबेज के द्वारा एनालिटिकल इंजन का आविष्कार किया गया।

सबसे पहला लैपटॉप किस कम्पनी ने बनाया था? 

सबसे पहले लैपटॉप का निर्माण ऑस्बॉर्न कंप्यूटर कॉरपोरेशन के द्वारा किया गया था। इसलिए इन्हे ही लैपटॉप का जनक माना जाता है। इनके द्वारा एक 11 किलो वजनी लैपटॉप का निर्माण किया गया जिसकी स्क्रीन 5 इंच की थी। इसे ऑस्बॉर्न 1 नाम दिया गया था। 

अंतिम शब्द – लैपटॉप और कंप्यूटर में क्या अंतर है

आज के इस लेख में हमने आपको लैपटॉप और कंप्यूटर के बारे में विस्तार से जानकारी उपल्ब्ध करवाई है जिसे आपको अपने उपयोग और कार्य क्षमता के आधार पर लैपटॉप और कंप्यूटर खरीदने में किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। आप इन जानकारी के आधार पर अपने लिए सही और उपयोगी लैपटॉप या कंप्यूटर का चयन कर सकते हैं। 

Leave a Comment