full information of computer कंप्यूटर की पूरी जानकारी ehindigyan

full information of computer कंप्यूटर की पूरी जानकारी

Full information of computer कंप्यूटर की पूरी जानकारी

कंम्‍प्‍यूटर का उपयोग बहुतयत लोग करने लगे है। भारत में वर्तमान में लगभग सभी सरकारी एवं प्रायवेट कार्यालय में कंम्‍प्‍यूटर के द्वारा ही कार्य किया जा रहा है। इस ब्‍लॉग के द्वारा आपको बताया जायेगा कि कम्‍प्‍यूटर क्‍या होता है, कंम्‍प्‍यूटर की परिभाषा, कंम्‍प्‍यूटर की क्षमताएं क्‍या होती है।

कंप्यूटर क्या है What is Computer 

तो आइए जानते हैं कि कंप्यूटर क्या होता है- कंप्यूटर एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक मशीन है जो अंकगणितीय और तार्किक क्रियाकलापों को संपन्न करता है। दूसरे शब्दों में हम यह कह सकते हैं कि कंप्यूटर ऐसी डिवाइस है जिसका प्रयोग निर्देशों की एक सूची के अनुसार डेटा को व्यवस्थित करने के लिए होता है। कंप्यूटर के द्वारा आप अपने घर से बैठकर दुनिया के किसी भी हिस्से में मौजूद व्यक्ति से इंटरनेट के जरिए संपर्क कर सकते हैं आप कम्‍प्‍यूटर पर इच्छानुसार कोई सभी कार्यक्रम देख सकते हैं साथ ही आप अपने कंप्यूटर के द्वारा ऑनलाइन खरीदी खरीदी भी कर सकते हैं जिसका भुगतान भी आप ऑनलाइन माध्यम से किसी भी बैंक से कर सकते हैं।

कंप्यूटर की परिभाषा Definition of Computer

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है जिसका उपयोग हम अंक गणित एवं तार्किक डेटा को स्टोर करने, व्यवस्थित करने, सुरक्षित करने एवं डेटा को पुनःप्राप्त करने के साथ साथ अन्य दूसरी मशीन पर ट्रांसफर करने के लिए किया जाता है। आम भाषा में हमें ये कह सकते हैं कि कंप्यूटर हमारे द्वारा दिए गए निर्देशों के आधार पर कार्य करता है।

कंप्यूटर की क्षमताएं Capability of Computer

कंम्‍प्‍यूटर का उपयोग करके मानव का आम जीवन काफी सुगम हो गया है। इसके जरिये कार्य को आसानी से किया जा सकता है। कंम्‍प्‍यूटर की मुख्‍य क्षमताएं निम्‍न है –
गति- कंप्यूटर किसी भी कार्य को बहुत तेजी से कर सकता है कंप्यूटर कुछ ही क्षण में गुणा भाग या जोड़ घटाव की करोडों क्रियायें कर सकता है।
शुद्धता
कंप्यूटर अपना कार्य बिना किसी गलती के करता है। हम यह नहीं कह सकते कि कंप्यूटर द्वारा गणना करने में कोई गलती की गई है। डेटा में जब भी कोई गलती स्पष्ट होती है, मानव की किसी गलती के कारण ही परिणाम गलत होते है।

स्वचालन

कंप्यूटर अपना कार्य प्रोग्राम के माध्यम से एक बार लोड हो जाने पर स्वयं करता रहता है उदाहरणार्थ, जब हम डेटा इंट्री को करते हैं तो उसके बाद रिपोर्ट बनाने की आवश्यकता नहीं होती है रिपोर्ट स्वयं बन जाती है अपितु कंप्यूटर प्रविष्टि डेटा के आधार पर स्वयं ही रिपोर्ट बना देता है।

सार्वभौमिकता

कंप्यूटर अपनी सार्वभौमिकता के गुण के कारण बड़ी तेजी से सारी दुनिया में छाता जा रहा है। कंप्यूटर गणितीय कार्यों को संपन्न करने के साथ साथ व्यावसायिक कार्यों के लिए भी प्रयोग में लाया जाने लगा है। कंप्यूटर में प्रिंटर संयोजित कर के सभी प्रकार की सूचनाएं कई रूप में प्रस्तुत की जा सकती है। कंप्यूटर को टेलीफोन लाइन से जोड़कर सारी दुनिया से सूचनाओं का आदान प्रदान किया जा सकता है। कंप्यूटर की सहायता से तरह तरह के खेल खेले जा सकते हैं।

उच्च संग्रहण क्षमता

एक कंप्यूटर सिस्टम की डेटा संग्रहण क्षमता अत्यधिक होती है। कंप्यूटर लाखों शब्दों को बहुत कम जगह में संग्रह करके रख सकता है। है सभी प्रकार के डेटा, प्रोग्राम, आवाज को कई वर्षों तक संग्रह है करके रख सकता है। हम कभी भी यह सूचना कुछ ही सेकंडों में प्राप्त कर सकते हैं तथा अपने उपयोग में ला सकते हैं।

कर्मठता

आम मानव किसी कार्य को निरंतर कुछ ही घंटों तक करने में थक जाता है इसके ठीक विपरीत कंप्यूटर किसी कार्य को निरंतर कई घंटों, दिनों तथा महीनों तक करने की क्षमता रखता है। इसके बावजूद उसके कार्य करने की क्षमता में ना तो कोई कमी आती है और ना ही कार्य के परिणाम की शुद्धता घटती है। कंप्यूटर किसी भी दिए गए कार्य को बिना किसी भेदभाव के करता है, चाहे वो कारें रुचिकर हो या उबाऊ।

विश्वसनीयता

जैसा कि पहले उल्लेख किया जा चुका है कि कंप्यूटर में ठीक ठीक संग्रहण, स्वचालन, डेटा की यथास्थिति में पुनः प्राप्ति, कर्मठता तथा उच्च गति जैसी क्षमताएं विद्यमान है। यही क्षमताएं कंप्यूटरों को आज विश्वसनीय बनाते है सभी व्यवसाय तथा विद्वता के लोग इस पर पूरी तरह निर्भर है।

कंप्यूटर की सीमाएं Limitations of Computer

कंप्यूटर की कमियों को बताना एक चुनौतीपूर्ण कार्य है, फिर भी हम इस पर विचार करें तो कंप्यूटर पर कुछ कमियां हैं जिसके बारे में आज हम यहाँ पर जानेगे-

बुद्धिमत्ता की कमी

कंप्यूटर एक मशीन की तरह कार्य करता है जो हमारे दिए गए निर्देशों पर कार्य करता है जिस प्रकार के हम कंप्यूटर को निर्देश देंगे वह उसी प्रकार की कार्यों को क्रियान्वित करेगा। कंप्यूटर हमारे दिए गए निर्देश से न तो अधिक कार्य करेंगे ना ही कम कार्य को निष्पादित करेगा। इसका मतलब यह है कंप्यूटर में कोई भी मानवीय भावना नहीं होती है।

मानव नियंत्रण

कंप्यूटर चाहे कितना भी शक्तिशाली क्यों ना हो जाए तो परन्तु उसका नियंत्रण मानव के ही पास रहता है कंप्यूटर को जैसी कमांड देते हैं वह उस प्रकार ही कार्य करता है कंप्यूटर या नहीं देखता है कि मानव द्वारा दिए गए कमांड सही है या गलत।

Leave a Reply

Your email address will not be published.